दुनिया बदल गई

       कविता             शीर्षक      दुनिया बदल गई धरी रह गई अकड़ हमारी छिपने को मजबूर हुए कोरोना की महामारी से दुनिया से हम दूर हुए। गलियां सूनी सूने मोहल्ले चौराहे सड़कें सब सूनी सन्नाटा पसरा है घरों में जैसे दुनिया उजड़ गई। शीतल मंद पवन के झोंके […]

Read More...

तालाबंदी की घोषणा

शीर्षक तालाबंदी की घोषणा लॉकडाउन की कीमत हमने बहुत देर से जानी है। धीरे-धीरे समझ रहे हम सब की यही कहानी है। जनता कर्फ्यू की बात नयी बात सभी ने मानी थी। ताली थाली ढोल बजाकर शंखनाद की ठानी थी। शुभ ध्वनि गूंजी घर-घर में विस्मृत संस्कृति का मान किया। हुई तरंगित दसों दिशाएं प्रकृति […]

Read More...

स्त्री

  स्त्री इतना आसान नहीं है                                      स्त्री होना जितना तुम घिसते हो, चिल्लाते हो आगे बढ़ने की होड़ में मुझे हमेशा दबाते हो उतनी ही निखरती हूँ मैं ईश्वर ने बनाया है कुछ अलग ही मिट्टी से […]

Read More...

कोरोना  से बचाव

कविता    ***********कोरोना  से बचाव************* विश्व में फैला हुआ है,व्यापक एक महामारी आज, W.H.O.संस्था ने  दिया जिसे covid-19 ये अलग नाम कोरोना है उसका मूल नाम चीन है उसका जन्मस्थान पूरा विश्व है आज ,जिसके आगाज से परेशान,कोरोना है उस महामारी का नाम। कोरोना से बचने का सीधा सरल एक उपाय बना कर हर पल […]

Read More...

COVIDE-19 ( कोरोना वध)

COVIDE-19 ( कोरोना वध) कोरोना वायरस आया लड़ने, हमारे हिन्दुस्तान. से| इसे मिटाओ मिलकर सब ये हमें मारेगा जान से| घरों से बाहर मत. निकलो, मत दिखलाओ नादानी| सड़कों पर. मत घूमो, करो ना अपनी मनमानी| जो जहाँ है,वहीं यदि रहता| देशहित में थोड़ा ,कष्ट सहता| वो ही है , सच में महान| उसका मैं […]

Read More...

ओ माँ सरस्वती………

ओ वीणा वाद्य्य बजाने वाली। ओ वीणा वाद्य्य बजाने वाली। प्यारी प्यारी सरस्वती माँ। श्वेत कमल पर तु विराजीत। श्वेत वस्त्र तु धारण किए। ओ माँ…… ओ माँ…… विद्या भंडार भर दे माँ। सबको तु ज्ञान दे दे माँ। अज्ञानता को दुर कर दे माँ। जीवन को तु रोशन कर दे माँ। ओ माँ…… ओ […]

Read More...

जन्मदिन पर कविता……..

ओ मेरी जाने जाना। ओ मेरी जाने जाना। तु कभी ना रूठ जाना। अाज तेरा जन्मदिन है आया। ना जाने कितनी खुशियाँ संग लाया। ओ मेरी जाने जाना। ओ मेरी जाने जाना। तू हमेशा खुश रहना। ना कभी उदास रहना। अपने सपनों को साकार करना। माता पिता का नाम रोशन करना। ओ मेरी जाने जाना। […]

Read More...

भाई बहन रक्षाबंधन पर कविता…..

राखी अायी, राखी अायी। अपनें संग ढेरों खुशियाँ लायी। भाई बहनों का प्यार लायी। रिश्तों में महक सजाई राखी अायी, राखी अायी। बहना है मिठाई लायी। कलाई सजाने राखी लायी। कुमकुम टीके को कुमकुम लायी। थाली में सामग्री सजाई। कर कुमकुम तिलक। भाई को मिठाई खिलाई। भाई की कलाई। देखो प्यारी प्यारी राखी सजायी। भाई […]

Read More...

भागती हुई लड़कियों पर समर्पित कविता…..

बाबुल के अंगना में। बाबुल के अंगना में। जब कली बन तु खिली। ना जाने कितनी खुशियाँ मिली। हाथ पकड़ जब तु। हाथ पकड़ जब तु। माँ बाबा का चली। ना जाने अंगना में। कितनी महक बढ़ी। ठुकरा दिया बाबुल अंगना। ठुकरा दिया बाबुल अंगना। क्युँ किसी और संग भाग चली। चप्पा चप्पा कर क्युँ। […]

Read More...

बाबा की कहानी बेटी की जुबानी…..

बाबा के दिल का टुकड़ा। बाबा के दिल का टुकड़ा। बस है एक दिल का दुखड़ा। क्युँ जल्द बड़ी होती ये बेटियाँ। सहारा बन बन जाती परछाईयाँ। क्युँ जल्द बड़ी होती ये बेटियाँ। घुटने है दुखते तो मलहम लगाती। ये बेटियाँ…….ये बेटियाँ……… छोटी थी जब बनता घोड़ा। गुड्डे संग है खिलाता। क्युँ जल्द बड़ी होती […]

Read More...

वेबसाइट के होम पेज पर जाने के लिए क्लिक करे

Donate Now

Please donate for the development of Hindi Language. We wish you for a little amount. Your little amount will help for improve the staff.

कृपया हिंदी भाषा के विकास के लिए दान करें। हम आपको थोड़ी राशि की कामना करते हैं। आपकी थोड़ी सी राशि कर्मचारियों को बेहतर बनाने में मदद करेगी।

[paytmpay]